Kangaroo ( कंगारू ) के बारें में अनोखे तथ्य

Kangaroo
Kangaroo ( कंगारू ) के बारें में अनोखे तथ्य –
  • कंगारू केवल ऑस्ट्रेलिया में पाए जाते हैं | यह ऑस्ट्रेलिया का राष्ट्रीय पशु भी हैं |
  • कंगारू समूहों में रहने वाला स्तनधारी वर्ग का शाकाहारी जीव हैं |
  • समूह में रहने के कारण कमजोर सदस्यों को सुरक्षा मिलती हैं |
  • पूरे ऑस्ट्रेलिया में इनकी अब तक 21 प्रजातियाँ खोजी जा चुकी हैं |
  • प्रजातियों के अनुसार इनका आकार अलग – अलग होता हैं |
  • सभी जातियों में लाल कंगारू ( Red Kangaroo ) सबसे बड़े आकार वाले और मस्क कंगारू ( Musk Kangaroo ) सबसे छोटे आकार वाले होते हैं |
  • इनके अग्र भाग में एक थैली समान संरचना मार्सूपियल ( Marsupial ) पायी जाती हैं | जिसमें बच्चे बड़े होने तक रहते हैं |
  • प्राकृतिक आवासों में इनका जीवनकाल लगभग 6 वर्ष का होता हैं |
  • लेकिन पाले जाने पर ये 20 वर्ष या उससे अधिक भी जीवित रह सकतें हैं |
  • इनकी पूँछ लम्बी और मोटी होती हैं | जिसे यह अपने 5 वे पैर के रूप में इस्तेमाल करता हैं और 30 फीट तक लम्बी छलांग आसानी से लगा सकता हैं |
  • कंगारू के अगले पैर छोटे होने के कारण यह कूदते हुए चलते हैं |
  • आवश्यकता पड़ने पर कंगारू 70 किलोमीटर प्रति घंटे की तेज रफ़्तार से कूदते हुए भाग सकते हैं |

क्या कंगारू तैर सकते है –

  • कंगारू तैरने में माहिर होते हैं |
  • यह शिकारियों से बचने के लिए नदियों या तालाबों में चले जाते हैं |
  • सामान्यता यह शांत रहने वाला प्राणी हैं |
  • लेकिन आत्मरक्षा में यह अपनी पिछली टांगो से जोरदार प्रहार करता हैं |
  • इनका गर्भकाल मात्र 30 से 35 दिनों का होता हैं |
  • इसके कारण शिशु कंगारू पूर्ण विकसित नहीं हो पाता और जन्म लेने के पश्चात धीरे – धीरे विकास करते हुए पूर्ण विकसित होता हैं |
  • ऑस्ट्रेलिया की मुद्रा और कई सरकारी व निजी संस्थाओं द्वारा भी कंगारू को प्रतीक के रूप में इस्तेमाल किया जाता हैं |
  • ऑस्ट्रेलिया में कंगारू का मांस बड़े चाव के साथ खाया जाता हैं |
  • इनके अत्यधिक शिकार के कारण ऑस्ट्रेलिया में कंगारुओं की संख्या में काफी कमी आयी और इनकी कुछ जातियाँ तो विलुप्त भी हो गई |
  • ऑस्ट्रेलियाई लोगों को भी कंगारू कहकर संबोधित किया जाता हैं |

No comments:

Recent Post

ads
Powered by Blogger.