रेगिस्तान का जहाज पानी में भी तैर सकता हैं

Camel

Camel
  1. ऊँट ( Camel ) को रेगिस्तान का जहाज कहा जाता हैं |
  2. अरबी ऊँटों के एक कूबड़ होता हैं जबकि बैक्ट्रियन ऊँट के 2 कूबड़ होते हैं | अरबी ऊँट पश्चिमी एशिया के रेगिस्तानी इलाकों में पायें जाते हैं जबकि बैक्ट्रियन ऊँट मध्य और पूर्व एशिया में पायें जाते हैं |
  3. ये इक्कीस दिनों तक बिना पानी पियें रह सकते हैं |
  4. इनका जीवनकाल 40 से 50 वर्ष का होता हैं |
  5. इनकी ऊँचाई 6 से 8 फीट तक हो सकती हैं |
  6. इनके मुँह में 34 दाँत होते हैं |
  7. इनके दौड़ने की रफ्तार 65 किलोमीटर प्रति घंटा तक हो सकती हैं | लेकिन लम्बी यात्राओं के दौरान यह 40 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चलते हैं |
  8. ऊँटों का उपयोग सवारी, सामान ढ़ोने, दूध और मांस के लिए किया जाता हैं |
  9. जीवाश्मों के साक्ष्यों से पता चला हैं कि आधुनिक ऊँट के पूर्वज का विकास उत्तरी अमेरिका महादीप में हुआ था जो बाद में एशिया में फ़ैल गए | लगभग 2000 ईसा पूर्व में सबसे पहले ऊँटो को पालतु बनाया गया |
  10. इनका वजन 300 से 1,000 किग्रा. तक होता हैं |
  11. इनका कूबड़ विकट परिस्थितियों में वसा, भोजन, पानी और इन्सुलेटर का काम करता हैं |
  12. ऊँट और लामा की RBC सबसे बड़ी होती हैं और यह अंडाकार होती हैं | जिसके कारण अधिक पानी को सोख सकती हैं और फटती नहीं हैं |
  13. कभी – कभी रेगिस्तान की रेत का तापमान 70 C तक पहुँच जाता हैं और ऐसे में इनके लम्बे पैर इनके शरीर को जमीन से ऊपर रखतें हैं | जिससे इनके अहम अंग सुरक्षित रहतें हैं |
  14. एक ऊँट 13 मिनट में 135 लीटर पानी पी सकता हैं |
  15. इनका पाचन तंत्र शक्तिशाली होता हैं | ऊँट अपने द्वारा खाये गए बड़े – बड़े काँटों, नमक और नुकीली झाड़ियों को भी आसानी से पचा लेते हैं या खा लेते हैं |
  16. पाकिस्तानी और अफगानी ऊँट एक दिन में लगभग 30 लीटर दूध देते हैं | बैक्ट्रियन ऊँट एक दिन में 5 लीटर दूध देते हैं | भारतीय ऊँट ( Dromedary ऊँट ) एक दिन में 20 लीटर दूध देते हैं |
  17. इनका गर्भकाल 13 से 15 महीनों का होता हैं |
  18. ऊँट पानी में भी तैर सकते हैं | जबकि Kharai ऊँट पानी में अधिक तैरते हैं क्योंकि ये Mangroves की पत्तियाँ खाने के लिए समुद्र पार करते हैं |

No comments:

Recent Post

ads
Powered by Blogger.