अंतरिक्ष यात्री रेडियो तरंगो से संवाद ( बातचीत ) करते

Astronaut

Astronaut

  • दूरी मापने की सबसे बड़ी इकाई पारसेक हैं |
  • यदि पृथ्वी अपनी वर्तमान कोणीय चाल से 17 गुना अधिक चाल से घूमने लगे तो भूमध्य रेखा पर रखी वस्तु का भार शून्य हो जायेगा |
  • प्रकाश वर्ष दूरी का मात्रक हैं |
  • सौरमंडल का सबसे अधिक चमकीला ग्रह शुक्र हैं |
  • ब्रह्माण्ड ( Universe ) में सबसे अधिक हाइड्रोजन गैस हैं |
  • बृहस्पति ( Jupiter ), शनि ( Saturn ), अरुण ( Uranus ), वरुण ( Neptune ) आदि ग्रह वास्तविक रूप से ठोस नहीं हैं | ये द्रव गैस के बड़े गोले हैं |
  • सूर्य से पृथ्वी तक प्रकाश पहुँचने में 8 मिनट 16 सेकण्ड का समय लगता हैं |
  • यम ( प्लूटो ) को सूर्य की एक बार परिक्रमा करने में 247 वर्ष का समय लगता हैं |
  • प्रकाश को पृथ्वी से चन्द्रमा तक की दूरी तय करने में 1.3 सेकण्ड का समय लगता हैं |
  • अंतरिक्ष में हमेशा सन्नाटा होता हैं | क्योंकि ध्वनि को गति के लिए माध्यम की आवश्यकता होती हैं |
  • अंतरिक्ष यात्री ( Astronaut ) रेडियो तरंगो से संवाद ( बातचीत ) करते हैं |
  • अंतरिक्ष से देखने पर सूर्य सफ़ेद दिखाई देता हैं क्योंकि अंतरिक्ष में वातावरण नहीं होता हैं |
  • सौरमंडल का सबसे बड़ा ग्रह बृहस्पति हैं |
  • अंतरिक्ष यात्री अपनी यात्रा के दौरान 2 इंच लम्बे हो जाते हैं | क्योंकि अंतरिक्ष में गुरुत्वाकर्षण नहीं होने से उनकी रीढ़ की हड्डी के जोड़ लगभग 3 प्रतिशत ढीले हो जाते हैं |
  • चन्द्रमा पृथ्वी से हर वर्ष दूर होता जा रहा हैं |

 

No comments:

Recent Post

ads
Powered by Blogger.