Space Station में जाने वाले अंतरिक्ष यात्री 2 इंच लम्बे हो जाते हैं

Space Station
अंतरिक्ष यात्री

अदभुत ब्रह्माण्ड की विशेषताएँ –

  • Space Station में जाने वाले अंतरिक्ष यात्री 2 इंच लम्बे हो जाते हैं | क्योंकि वहाँ पर गुरुत्वाकर्षण का प्रभाव कम होता हैं |
  • हर दिन पृथ्वी के वायुमंडल में 100 से 300 टन ब्रह्माण्डीय धूल ( Cosmic Dust ) प्रवेश करती हैं |
  • अधिकांश लोग बुध ( Mercury ) को सबसे गर्म ग्रह मानते हैं |
  • लेकिन सूर्य के सबसे नजदीक होने के बावजूद बुध ग्रह सबसे गर्म ग्रह नही हैं |
  • सबसे गर्म ग्रह शुक्र ( Venus ) हैं |
  • Black Hole के बहुत अधिक गुरुत्वाकर्षण के कारण प्रकाश भी इससे बाहर नही निकल सकता हैं |
  • लेकिन Black Hole विकिरणों का उत्सर्जन करते हैं |
  • अगर आप अंतरिक्ष में रोते है तो आपके आँसू नीचे नही गिरेंगे |
  • वायुमंडल की अनुपस्थिति के कारण आप सामान्य रूप से बाते नही कर सकते हैं | जैसे आप पृथ्वी पर करते हैं |
  • इसी कारण अंतरिक्ष यात्री अंतरिक्ष में बाते करने के लिए रेडियो संकेतो का उपयोग करते हैं |
  • पृथ्वी पर जितने धूल के कण हैं | उनसे भी कई गुना अधिक तारें अंतरिक्ष में हैं |
  • जहाँ तक जानकारी हैं | प्रकाश की गति सबसे तेज होती हैं और एक आकाशगंगा को पार करने में प्रकाश को भी 1,00,000 साल लग जाते हैं |

चाँद की गंध –

  • चाँद की गंध ( Smell ) Gunpowder के जैसी हैं |
  • सन 2004 में वैज्ञानिकों ने एक ऐसे ग्रह की खोज की | जिसका आंतरिक कोर हीरे का बना हुआ हैं |
  • यह पृथ्वी से 50 प्रकाश वर्ष दूर हैं |
  • इसे सबसे बड़ा हीरा माना जा रहा हैं |
  • अधिकतर आकाशगंगाओं के बीच में एक बड़ा Black Hole हैं |
  • SETI एक Extra Terrestrial Intelligence प्रोग्राम हैं | जो कुछ सालों पहले शुरू किया गया था | जिसका उद्देश्य है कि बाहरी अंतरिक्ष में बुद्धिमान जीवन के रेडियों संकेतों की पहचान करना हैं |
  • वैज्ञानिकों का मानना है कि जिस प्रकार Black Hole अपने अन्दर सभी चीजों को समा लेते हैं |
  • इनके विपरीत White Hole किसी फौव्वारें की तरह प्रकाश और पदार्थ को बाहर निकालता हैं | यह Black Hole के विपरीत कार्य करता हैं |
  • ऐसा माना जाता था कि केवल पृथ्वी पर ही जीवन अस्तित्व में हैं | लेकिन सन 1986 में NASA ने पाया कि मंगल ग्रह की चट्टानों में सूक्ष्म जीव के जीवाश्म होने के सबूत मिले हैं |
  • हाल ही में शनि के चन्द्रमा टाइटन के वातावरण में Organic ( कार्बनिक ) जीवन रसायन होने के सबूत मिले हैं |
  • ऐसा माना जा रहा है कि टाइटन पर जीवन मौजूद हैं |

Space Station

No comments:

Recent Post

ads
Powered by Blogger.