Bat ( चमगादड़ ) ऐसा स्तनधारी हैं जो उड़ सकता हैं

Bat
Bat

Bat ( चमगादड़ ) के बारें में रोचक बातें –

  • चमगादड़ दुनिया का एकमात्र ऐसा स्तनधारी हैं जो उड़ सकता हैं |
  • स्तनधारी होने के कारण चमगादड़ दुनिया का एकमात्र ऐसा पक्षी भी हैं जो बच्चे पैदा कर दूध पिलाता हैं |
  • दुनियाभर में चमगादड़ों की 1000 से अधिक प्रजातियाँ पाई जाती हैं |
  • चमगादड़ सामान्यता रात्रिचर जीव होते हैं |

Bat ( चमगादड़ ) मुख्य रूप से 2 प्रकार के होते हैं –

1 . फलाहारी चमगादड़ ( Megachiroptera ) – इस प्रकार के चमगादड़ आकार में कीट खाने वाले चमगादड़ों से बड़े होतें हैं | ये मकरन्द, मधुरस और फल खाने वाले होतें हैं | इनके पंखों का फैलाव 4.5 फीट तक हो सकता हैं |

2 . कीटाहारी चमगादड़  ( Microchiroptera ) – इस प्रकार के चमगादड़ आकार में फल खाने वाले चमगादड़ों से छोटे होते हैं | ये छोटे कीट – पतंगो, गुबरेलों, छोटे कीड़ों को खाते हैं | कुछ चमगादड़ जैसे – वैम्पायर्स ( Vampires ) बड़े जीवों का खून चूसने वाले भी होतें हैं |

  • हाल के कुछ वर्षों में अफ्रीका महादीप में फैला भयानक वायरस इबोला का मुख्य कारण चमगादड़ थे |
  • कुत्ते के काटने से जो वायरस फैलता हैं वही रेबीज नामक वायरस चमगादड़ के काटने से भी फ़ैल सकता हैं |
  • चमगादड़ अँधेरी गुफाओं, पुराने खंडरों और पेड़ो पर उल्टे लटके रहतें हैं जिससे इनको उड़ान भरने में आसानी होती हैं | क्योंकि इनके पैर इतने छोटे होते हैं कि ये दौड़ कर जमीन से उड़ान नहीं भर पातें हैं |
  • ये उल्टे लटके होने के बावजूद कभी नीचे नहीं गिरते हैं | क्योंकि इनकी पैरों की नसें इस प्रकार व्यवस्थित होती हैं कि चमगादड़ का वजन ही इनके पंजो को मजबूती के साथ पकड़ बनाने में मदद करता हैं |
  • चमगादड़ उड़ने व शिकार करने के लिए Echolocation नामक तकनीक का उपयोग करतें हैं |

Echolocation Technique ( इको लोकेशन तकनीक ) –

इस तकनीक में यह अपने मुँह से धीमी – धीमी आवाजें निकालतें हैं | जब यह आवाज किसी चीज से टकराकर वापस आती हैं तो ये उसकों सुनकर अपनी व शिकार की स्थिति का पता लगा लेतें हैं | और शिकार करतें हैं |

  • इनमें पराश्रव्य तरंगो को सुनने की अनोखी काबिलियत पायी जाती हैं | जिसे मनुष्य नहीं सुन सकता |
  • चमगादड़ों की कुछ प्रजातियों को इनके मुँह की बनावट के कारण उड़न लोमड़ी भी कहतें हैं |
  • चमगादड़ों की सबसे बड़ी गुफा टेक्सस ( Texas ) में स्थित हैं और यहाँ करीब 2 करोड़ चमगादड़ रहतें हैं |
  • भूरे चमगादड़ो की एक प्रजाति का जीवनकाल लगभग 40 वर्षों का हैं |
  • मुख्यतः अफ़्रीकी देशों और कुछ अमेरिकी देशों में चमगादड़ को भोजन के रूप में खातें हैं |

 

No comments:

Recent Post

ads
Powered by Blogger.