आज तक की दुनिया की सबसे तेज आवाज Noise

सबसे तेज आवाज
ज्वालामुखी विस्फोट

आज तक की दुनिया की सबसे तेज आवाज

आज हम जानेंगे आवाज ( Sound ) के बारे में कि कितनी तेज आवाज मनुष्य के कानों के लिए हानिकारक हैं | और आज हम यह भी जानेंगे कि मनुष्य के कानों को कितनी आवाज सुनाई देती हैं | और कौनसी आवाज आज तक की सबसे तेज आवाज थी | और कितनी तेज आवाज से मानव के कानों के पर्दे फट सकते हैं | लगभग 10 डेसीबल के ऊपर की आवाजें मनुष्य को स्पष्ट सुनाई देती हैं | जबकि 10 डेसीबल से नीचे की आवाजें मनुष्य को सुनने में बहुत कठिनाई होती हैं | ध्वनि को मापने के Level ( स्तर ) को डेसीबल ( Decibel ) कहते हैं | सामान्य भाषा लगभग 60 डेसीबल के आस – पास होती हैं और 120 डेसीबल से ऊपर की आवाजें मनुष्य के कानों में तेज दर्द करने और 140 डेसीबल से ऊपर की आवाजें मनुष्य के कानों के पर्दे फाड़ सकती हैं | या कानों को नुकसान पहुँचा सकती हैं |

हमारे सांस लेने की औसत आवाज 10 डेसीबल होती हैं |

हवा चलने पर पेड़ – पौधों की पत्तियों की हिलने की आवाज 20 डेसीबल होती हैं |

फुसफुसाहट में बात करने की आवाज 30 डेसीबल होती हैं |

एक शांत जगह जैसे लाईब्रेरी में होने वाली आवाज 45 डेसीबल होती हैं |

सामान्य रूप से बातचीत करने की आवाज 50 डेसीबल होती हैं |

किसी होटल या रेस्टोरेंट में 4 – 5 लोग मिलकर बात करने की आवाज 60 डेसीबल होती हैं |

एक वैक्यूम क्लीनर लगभग 70 डेसीबल की आवाज करता हैं |

एक मोटरसाईकिल ( Bike ) 80 से 90 डेसीबल की आवाज करती हैं | और एक कुत्ते की भौंकने की आवाज भी 80 से 90 डेसीबल के लगभग होती हैं |

एक सड़क ( Road ) तोड़ने वाली मशीन ( Jackhammer ) 100 से 110 डेसीबल की आवाज निकालता हैं |सबसे तेज आवाज

110 डेसीबल की आवाज हमारे कानो में दर्द करने के लिए काफी हैं |

Wolf और Hyena की पुकारने की आवाज 112 से 115 डेसीबल होती हैं |सबसे तेज आवाज

एक शेर की दहाड़ने ( Roar ) की आवाज 114 डेसीबल की होती हैं |

DJ, लाऊड स्पीकर 108 से 115 डेसीबल की आवाज करते हैं |

Howler Monkey की आवाज 128 डेसीबल की होती हैं |

एक शॉटगन या Gun चलाने पर होने वाली आवाज 130 डेसीबल होती हैं |

Blue Whale की Whistling की आवाज इस दुनिया में जीवों से सबसे अधिक होती हैं | जो लगभग 190 डेसीबल के लगभग हैं |

एक हवाई जहाज या जेट विमान 150 डेसीबल की आवाज करते हैं | अगर आप 25 मीटर दूर हो तो यह आवाज आपके कानो के पर्दे फाड़ने के लिए काफी है |

सन 1883 में फटे ज्वालामुखी Krakatoa से निकली आवाज लगभग 310 डेसीबल के लगभग थी | इस ज्वालामुखी के फटने के समय आप इस ज्वालामुखी से 64 किलोमीटर दूर भी होते तो भी आपके कानो के पर्दे फट जाते |

No comments:

Recent Post

ads
Powered by Blogger.