वह बच्चा हैवान था

devil

devil

वह बच्चा हैवान था

एक सनकी वैज्ञानिक अनेक वर्षों से आदिमानव के DNA पर रिसर्च कर रहा था | तब उस वैज्ञानिक ने सरकार से अनुरोध किया कि उसको यह प्रयोग करने के लिए एक महिला वोलेंटियर उपलब्ध कराई जाये | जो इस प्रयोग का हिस्सा बन सके | या जो सहमति पूर्वक आदिमानव के DNA को ग्रहण कर गर्भधारण करे | लेकिन सरकार को यह पता चलने पर सरकार ने इसे गैरकानूनी ठहराते हुए उस वैज्ञानिक की मान्यता रद्द कर दी | और उसे रिसर्च करने तथा उपलब्ध सुविधाओं पर प्रतिबन्ध लगा दिया | लेकिन वह सनकी वैज्ञानिक अपना प्रयोग करने के लिए जेल जाने तक भी तैयार था | तब वह वैज्ञानिक अपनी प्रोफेसनल रिसर्च व्यवसाय को छोड़कर चला गया | और वह एक बहुत पिछड़े गाँव में जाकर अपनी पहचान छुपाकर वहाँ डॉक्टर के रूप में कार्य करने लगा |

1 – 2 साल कार्य करने पर एक महिला पेट दर्द का इलाज कराने के लिए उस वैज्ञानिक के पास आयी | उस औरत की आयु 35 से 50 वर्ष के लगभग थी | तब उस वैज्ञानिक ने अपना प्रयोग करने के लिए महिला को एक महीने बाद दुबारा आने के लिए कहा | इस समय में उस वैज्ञानिक ने अपनी पूर्व रिसर्च लैब से आदिमानव का DNA किसी गुप्त व्यक्ति से मंगवाया | और जब वह महिला दोबारा उस डॉक्टर के पास आयी तो उस डॉक्टर ने आदिमानव का DNA महिला के गर्भ में इंजेक्ट कर दिया | उस महिला के परिवार में उसके बच्चे के अलावा कोई नहीं था | उसके पति की मृत्यु 1-2 महीने पहले ही हो चुकी थी | इसका फायदा उठाकर डॉक्टर ने यह प्रयोग उस महिला पर किया |

अगर डॉक्टर का प्रयोग सामान्य रूप से चलता रहता तो –

तो उस महिला को आदिमानव के लक्षणों युक्त बच्चे के जन्म लेने की सम्भावना थी | लेकिन वह औरत एक दिन गर्भ के समय सूर्यग्रहण के दौरान खुले में कही काम से जा रही थी | इस दौरान वह महिला बेहोश होकर रास्ते में गिर पड़ी | जिसके कारण सूर्यग्रहण के दौरान निकलने वाली UV ( पैराबैंगनिक किरणों ) किरणों के कारण उस महिला के गर्भ में पल रहे बच्चे के DNA में अनचाहे ( Unexpected ) बदलाव आ गए | जिसके कारण उस महिला का जन्म लेने वाला बच्चा विकृत व आदमखोर जन्मा | वह रहस्यमयी बच्चा इंसानों को खाने के लिए दौड़ता था और उसने पैदा होते ही अपनी माँ को मार डाला | लोग उसे हैवान कहने लगे |

devil

No comments:

Recent Post

ads
Powered by Blogger.